प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना 2021 – ऑनलाइन आवेदन Pradhanmantri Krishi Sinchayee Yojana 2021

Pradhanmantri Krishi Sinchayee Yojana : नमस्कार दोस्तों इस आर्टिकल में हम प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना 2021 के विषय में बात करेंगे हम जानेंगे की प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना 2021 क्या है? प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना 2021 के लाभ क्या है ? Pradhan mantri Krishi Sinchayee Yojana 2021 के लिए आवश्यक पात्रता क्या है? और PMKSY 2021 में आवेदन ऑफिसियल वेबसाइट से कैसे किया जाता है? PMKSY 2021 का लाभ लोगों को मिल सकता है सभी आवश्यक जानकारी आपको विवरण रूप में हमारे द्वारा प्रदान किया जा रहा है PM Krishi Sinchai Yojana का लाभ लेने के लिए आप तमाम किसान भाइयों से आग्रह है कि सबसे पहले इसकी जानकारी इस पर लें और पीएम योजना का लाभ उठाएं। प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना के अंतर्गत आने वाली साड़ी आवश्यक जानकारी आपको नीचे दी जा रही है। इसलिए आपको यह सलाह दी जा रही है कि आप इस आर्टिकल को नीचे तक पढ़े और इसका लाभ लें।

Pradhanmantri Krishi Sinchayee Yojana 2021

जैसा कि हम सभी जानते हैं भारत एक कृषि प्रधान देश है और कृषि की उपजाऊ के लिए पानी की आवश्यकता होती है। जितना अधिक सिंचाई होगा उतनी अधिक उपज की होगी । प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना 2021 का यही उद्देश्य है कि सारे किसानों को फ्री में कृषि के लिए ज्यादा से ज्यादा सिंचाई की व्यवस्था कराई जाए। ताकि भारत में उठ जाओ कृषि उपजाऊ की स्थिति बरकरार रहे । उसमें कोई गिरावट नहीं हो सके । प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना का लाभ लेने के लिए भारत राज्य के किसी भी किसान को आवेदन करने की छूट है । Pradhanmantri Krishi Sinchayee Yojana का लाभ लेने के लिए आपको ऑनलाइन आवेदन करना होगा।आप अपने राज्य के कृषि पोर्टल के माध्यम से ऑनलाइन आवेदन कर पाएंगे। आप यहां से भी अपने राज्य के कृषि पोर्टल पर जाकर आवेदन कर सकते हैं। Pradhanmantri Krishi Sinchayee Yojana की विशेषता है और उसके लाभ आपको हमारे द्वारा नीचे दी जा रही है इसलिए आप इसे इस आर्टिकल को ध्यानपूर्वक पढ़ें और सरकारी योजना का लाभ लें।

Pradhanmantri Krishi Sinchayee Yojana 2021

प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना 2021

इस योजना की शुरुआत प्रधानमंत्री के द्वारा 2015 में की गई Pradhanmantri Krishi Sinchayee Yojana की शुरुआत करने का उद्देश्य ही था कि देश के हर किसानों को इसका लाभ पहुंचे और खेतों में अच्छी उपज हो। क्योंकि हमारे देश भारत में कई ऐसे राज्य हैं जहां सिंचाई की व्यवस्था पर्याप्त नहीं है। जिसके कारण कृषि पर इसका गहरा असर होता है। वहां के लोगों को काफी चिंता होती है उनकी खेती अच्छी तरह से नहीं हो पाती । Pradhanmantri Krishi Sinchayee Yojana का लाभ लेकर वह अपने खेतों में बोर्डिंग की सुविधा उपलब्ध करवा पाएंगे। जिसके पास खेती करवाने में काफी चाहता मिलेगी। प्रधानमंत्री ने इसका लक्ष्य यही तक था कि देश में जितना से जितना हो सके कृषि उपज में बढ़ोतरी हो । क्योंकि पिछले कुछ सालों में कृषि का स्तर नीचे की ओर गिरता जा रहा है और इसका प्रभाव देश के हर किसान गरीब व्यक्ति तक हो रहा है।

पीएम कृषि सिचाई योजन पीएमकेएसवाई एप्लीकेशन फॉर्म

हम सभी जानते हैं कि भारत देश में किसान की आबादी सबसे ज्यादा है और वह सभी कृषि पर आश्रित है उनका जीवन किसी से ही अध्यापन होता है। सिंचाई की सुविधा नहीं होने के कारण कई सारे राज्यों में इसका गहरा असर पड़ा है। और उनकी आर्थिक स्थिति भी कमजोर हो रही है। PMKSY Scheme 2021  के अंतर्गत किसानों को सिंचाई हेतु अच्छी व्यवस्था प्रदान की जाएगी और और देश की आर्थिक स्थिति भी मजबूत होगी। क्योंकि अगर किसान की स्थिति खराब रही तो देश की आर्थिक स्थिति होने की संभावना होती है।

PMKSY 2021 vivran

योजना का नाम प्रधानमंत्री कृषि सिचाई योजना
इनके द्वारा शुरू की गयी पीएम नरेंद्र मोदी जी
लॉन्च कि तारीक वर्ष 2015
लाभार्थी देश के किसान
ऑफिसियल वेबसाइट http://pmksy.gov.in/

हर खेत को पानी “प्रधानमंत्री कृषि सिचाई योजना”

भारत सरकार जल संरक्षण और इसके प्रबंधन के लिए उच्च प्राथमिकता देने के लिए प्रतिबद्ध है। इस प्रभाव के लिए पीएमकेएसवाई स्कीम (पीएमकेएसवाई) को सिंचाई ‘हर खेत को पानी’ के कवरेज को बढ़ाने और जल उपयोग दक्षता में सुधार लाने की दृष्टि से तैयार किया गया है, जिसमें ” प्रति बूंद से अधिक फसल ” का प्रयोग किया गया है। स्रोत निर्माण, वितरण, प्रबंधन, क्षेत्र अनुप्रयोग और विस्तार गतिविधियाँ। माननीय प्रधान मंत्री की अध्यक्षता में आर्थिक मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति ने 1 जुलाई, 2015 को आयोजित अपनी बैठक में प्रधान मंत्री कृषि सिचाई योजना (PMKSY) को मंजूरी दे दी है।

प्रधानमंत्री अधिक फसल प्रति बूंद योजना

पीएमकेएसवाई को चल रही योजनाओं को समाप्‍त करने के लिए तैयार किया गया है। जल संसाधन, नदी विकास और गंगा कायाकल्प (MoWR, RD & GR) मंत्रालय, भूमि संसाधन विभाग (DoLR) के एकीकृत जलग्रहण प्रबंधन कार्यक्रम (IWMP) और कृषि जल प्रबंधन (OFWM) के त्वरित सिंचाई लाभ कार्यक्रम (AIBP) कृषि और सहकारिता विभाग (डीएसी)। पीएमकेएसवाई को पूरे देश में रु। पांच साल में 50,000 करोड़ रु। 2015-16 के लिए, रु .300 करोड़ का परिव्यय बनाया गया है जिसमें रु। डीएसी के लिए 1800 करोड़; रु। DoLR के लिए 1500 करोड़; रु। MoWR के लिए 2000 करोड़ रुपये (AIBP के लिए 1000 करोड़ रुपये; PMKSY के लिए 1000 करोड़ रुपये)।

इस योजना की यही मिशन है कि देश के सभी संसाधन सही ढंग से उपयोग हो सके जिससे देश की जनता को लाभ मिले। मोदी जी बाकी योजना की तरह इसका भी उद्देश्य यही है कि देश और देश के लोगों का विकास अधिक से अधिक हो ताकि लोगों के बीच किसी भी प्रकार की आर्थिक स्थिति की कमजोरी ना इस योजना की विशेषताएं इस प्रकार है।

डीआईपी और एसआईपी की भूमिका

जिला सिंचाई योजना (डीआईपी) योजना और कार्यान्वयन के लिए आधारशिला होगी। राष्ट्रीय कृषि विकास योजना (आरकेवीवाई) के लिए पहले से ही उपलब्ध जिला कृषि योजनाओं (डीएपी) को ध्यान में रखते हुए डीआईपी सिंचाई सिंचाई के बुनियादी ढांचे में अंतराल की पहचान करेगा। वर्तमान में उपलब्ध सिंचाई के बुनियादी ढाँचे और अन्य संसाधनों से जो कि बारहवीं योजना के दौरान जोड़े जाएंगे। योजनाएं (राज्य और केंद्र दोनों), जैसे महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना (MGNREGS), राष्ट्रीय कृषि विकास योजना (RKVY), ग्रामीण अवसंरचना विकास निधि (RIDF), संसद के सदस्य स्थानीय क्षेत्र विकास (MPLAD) योजना, विधायी सदस्य असेंबली लोकल एरिया डेवलपमेंट (MLALAD) स्कीम, स्थानीय निकाय फंड आदि।

प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना कार्य

देश में बुवाई किए गए शुद्ध क्षेत्र के लगभग 141 m.Ha में से, लगभग 65 मिलियन हेक्टेयर (या 45%) वर्तमान में सिंचाई के अंतर्गत आता है। वर्षा पर अत्यधिक निर्भरता असिंचित क्षेत्रों में खेती को एक उच्च जोखिम, कम उत्पादक पेशा बनाती है। अनुभवजन्य साक्ष्य बताते हैं कि आश्वासन या सुरक्षात्मक सिंचाई किसानों को खेती की तकनीक और इनपुट में अधिक निवेश करने के लिए प्रोत्साहित करती है
उत्पादकता में वृद्धि और कृषि आय में वृद्धि।

PMKSY के व्यापक उद्देश्य

  • क) क्षेत्र स्तर पर सिंचाई में निवेश के अभिसरण को प्राप्त करना।
    (जिला स्तर की तैयारी और, यदि आवश्यक हो, तो उप जिला स्तर पानी का उपयोग करें)
  • ख) खेत पर पानी की भौतिक पहुँच को बढ़ाना और खेती योग्य बनाना।
    सुनिश्चित सिंचाई के तहत क्षेत्र (हर खेत को पानी),
  • ग) सबसे अच्छा बनाने के लिए जल स्रोत, वितरण और इसके कुशल उपयोग का एकीकरण।
    उपयुक्त प्रौद्योगिकियों और प्रथाओं के माध्यम से पानी का उपयोग।
  • घ) अपव्यय और वृद्धि को कम करने के लिए खेत पर पानी का उपयोग दक्षता में सुधार अवधि और सीमा दोनों में उपलब्धता,
  • ई) सटीक-सिंचाई और अन्य पानी की बचत को अपनाना
    प्रौद्योगिकियां (प्रति बूंद अधिक फसल)।
  • च) एक्वीफर्स के पुनर्भरण को बढ़ाने और टिकाऊ जल संरक्षण की शुरुआत करना।
  • छ) वाटरशेड के उपयोग से वर्षा आधारित क्षेत्रों के एकीकृत विकास को सुनिश्चित करना मिट्टी और जल संरक्षण, जमीन के उत्थान की दिशा में दृष्टिकोण पानी, गिरफ्तारी अपवाह, आजीविका विकल्प और अन्य NRM प्रदान करना
    गतिविधियाँ।
  • ज) जल संचयन, पानी से संबंधित विस्तार गतिविधियों को बढ़ावा देना
    किसानों और जमीनी स्तर के क्षेत्र के लिए प्रबंधन और फसल संरेखण
    कार्यकर्त्ता।
  • झ) पेरिअर्बन एग्रीकल्चर के लिए ट्रीटेड म्युनिसिपल वेस्ट वाटर को फिर से उपयोग करने की व्यवहार्यता का पता लगाएं, और
  • ज्ञ) सिंचाई में अधिक से अधिक निजी निवेश आकर्षित करना।

प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना 2021 के दस्तावेज़

  • आवेदक का आधार कार्ड
  • पहचान पत्र
  • किसानो की ज़मीन के कागज़ात
  • जमीन की जमा बंदी (खेत कि नकल)
  • बैंक अकाउंट पासबुक
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मोबाइल नंबर

Pradhanmantri Krishi Sinchayee Yojana 2021 की पात्रता

  • इस योजना का लाभ लेने के लिए किसानों के पास कृषि योग्य स्वयं की भूमि होनी चाहिए ।
  • PMKSY Scheme के लिए देश के किसी भी राज्य के पात्र किसान आवेदन कर सकते हैं ।
  • Pradhanmantri krishi sinchayee Yojana 2020 के तहत सेल्फ हेल्प ग्रुप, ट्रस्ट,सहकारी समिति, इंकॉरपोरेट कंपनियां इत्यादि के कृषक के समूह को सदस्य और अन्य पात्रता प्राप्त संस्थानों के सदस्य को भी लाभ उपलब्ध कराया जाएगा ।
  • पीएम कृषि सिंचाई स्कीम 2020-21 के तहत उन किसानों को भी लाभ दिया जाएगा जो न्यूनतम 7 वर्षों से लीज एग्रीमेंट के तहत उस भूमि पर खेती करता हो कॉन्ट्रैक्ट फार्मिंग से भी किसानों की पात्रता सुनिश्चित की जा सकती ।

पीएम कृषि योजना आवेदन लॉग इन

प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना का लाभ लेने के लिए भारत राज्य के किसी भी जिले के व्यक्ति को आवेदन करने का स्वतंत्रता है योजना का लाभ अपने राज्य के ऑफिशियल वेबसाइट की सहायता से ऑनलाइन मोड में कर सकते हैं । या ऑफलाइन मोड में भी जिला कार्यालय में आवेदन फॉर्म जमा करके कर सकते हैं। उपर्युक्त बताए गए दस्तावेज की उपलब्धि होने के बाद आप इस योजना का लाभ लेने के पात्र समझे जाएंगे।

  • आधिकारिक वेबसाइट प्रधानमंत्री कृषि सिचाई योजना अर्थात http://pmksy.gov.in/ पर जाएँ।
  • होमपेज पर, वेबसाइट के होमपेज पर लॉगइन करें। आप अपने नाम और ईमेल आईडी के जरिए लॉगइन कर सकते हैं।
  • इसके बाद, आप वेबसाइट में अबाउट सेक्शन में जाकर कृषि सिंचाई योजना से संबंधित सभी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

www.pmksy.gov.in Log In

जिन लाभार्थियों ने इस योजना का लाभ लेने के लिए ऑनलाइन आवेदन किया है या ऑफलाइन आवेदन किया है योजना स्टेटस चेक करें करने के प्रयास में हैं तो नीचे दिए गए लिंक के माध्यम से या ऑफिशियल वेबसाइट पर लॉगिन करके चेक कर सकते हैं ऑनलाइन आवेदन करने के समय जिन जानकारी और दस्तावेज को आपने जमा किया था उसकी रूटी को भी चेक कर सकते हैं आप अपने दस्तावेज को सुधार भी सकते हैं। लॉगिन करने की प्रक्रिया ऊपर आपको बताई गई है।

हमने आवश्यक जानकारी आप तक पहुंचा दी है अगर आपको अन्य किसी प्रकार की जानकारी आ सकता है तो आप पूछ सकते हैं हम आपकी हर संभव मदद के लिए यहां आ जाएंगे और अधिक जानकारी के लिए दिए गए लिंक पर क्लिक करें और इसकी जानकारी प्राप्त करें।

Leave a Comment