Pradhan Mantri Rojgar Yojana ऑनलाइन www.pmrpy.gov.in प्रधानमंत्री रोजगार योजना रजिस्ट्रेशन

आर्टिकल हम लोग प्रधानमंत्री रोजगार योजना के विषय में बात करेंगे यहां हम जानेंगे कि Pradhan Mantri Rojgar Yojana क्या है प्रधानमंत्री रोजगार योजना 2021 की पात्रता क्या है? प्रधानमंत्री रोजगार योजना पीएमआरवाई ऋण में ऑनलाइन आवेदन कैसे होता है? प्रधानमंत्री रोजगार योजना एप्लीकेशन फॉर्म , रजिस्ट्रेशन ऑफिसियल वेबसाइट www.pmrpy.gov.in से आवेदन करने की प्रक्रिया और इसके लाभ के विषय में बात करेंगे। यदि आप उन्हीं लाभार्थियों में से हैं जो प्रधानमंत्री रोजगार योजना के अंतर्गत लाभ लेना चाहते हैं। तो आप बिल्कुल सही साइट पर आए हैं।

हमारे द्वारा आपको PMRY Loan Scheme 2021 से संबंधित सारी महत्वपूर्ण और आवश्यक जानकारियां विभिन्न चरणों में प्रदान की जा रही है। इसलिए आपसे या अनुरोध है कि आप इस आर्टिकल को अंतर योजना का लाभ उठाएं। नीचे इस योजना में ऑनलाइन ऑफिशल वेबसाइट www.pmrpy.gov.in से आवेदन और रजिस्ट्रेशन करने का लिंक उपलब्ध कराया जा रहा है। यहाँ से आप आयुष्मान भारत गोल्ड कार्ड के लिए भी आवेदन कर सकते है ।

Pradhan Mantri Rojgar Yojana

हम आपको बता दें कि प्रधानमंत्री रोजगार योजना एक ऐसी योजना है इसे पहली बार वर्ष 1993 में शुरू किया गया था कि राज्य सरकार द्वारा रोजगार के अवसर प्रदान करने के उद्देश्य की गई थी योजना का लक्ष्य कि देश में शिक्षित युवा और पढ़े-लिखे युवा को रोजगार देना था। इस योजना का लाभ के सभी शिक्षित और शिक्षित बेरोजगार युवा ले सकते हैं और Pradhan Mantri Rojgar Yojana से मिलने वाले राशि से अपने लिए उद्योग शुरू कर सकते हैं। प्रधानमंत्री रोजगार योजना वह सरकारी योजना है जिसेसे देश की शिक्षित युवाओं द्वारा लिया जा सकता है। पीएमआरवाई ऋण योजना का उपयोग करते हुए वित्तीय सहायता और समर्थन में युवाओं को सेवा निर्माण और व्यापार जैसे क्षेत्र में अपना स्टार्टअप शुरू करने में सहायता मिलेगी। इस ऋण Pradhan Mantri Rojgar Yojana लाभ लेने के लिए आवेदन को ऑनलाइन ऑफिसियल वेबपोर्टल www.pmrpy.gov.in से रजिस्ट्रशन करने की आवश्यकता है।

प्रधानमंत्री रोजगार योजना रजिस्ट्रेशन 2021

प्रधानमंत्री रोजगार योजना में मुख्य रूप से दो देशों को पूरा करने के लिए बनाया गया सबसे पहले सभी के लिए अपने प्रतिष्ठानों में नए रोजगार उत्पन्न करने के लिए प्रोत्शाहन उत्पन्न करता है। भारत सरकार ने रोजगार के लिए नियोक्ता में आठ दिशा में 35% इपीएस योगदान का भुगतान करेगी । बेरोजगार युवाओं को उद्योग करने हेतु कुछ ऋण प्रदान करना है जिससे शिक्षित बेरोजगार व्यक्तियों को उनके क्षेत्र में रोजगार प्राप्त करने की सुविधा प्रदान कर सके । ऐसा करने से यह श्रमिक संगठित क्षेत्र में काम करने के साथ आने वाले सामाजिक सुरक्षा लाभ तक पहुंच प्राप्त करने का प्रत्यक्ष लाभ प्राप्त करेंगे। जिससे देश में बेरोजगारी की संख्या घटेगी लोगों को अपना रोजगार प्राप्त होगा। सभी लोग अपना उद्योग शुरू करेंगे जिससे उनकी आर्थिक स्थिति में भी मजबूती प्रदान होगी।

Pradhan Mantri Rojgar Yojana

पीएम रोजगार योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन फॉर्म

ऐसा ही हमने आपको बताया इस योजना का नाम लाभ मारे देश के सभी जरूरतमंद बेरोजगार युवाओं तक पहुंचाई जाएगी। प्रधान मंत्री रोजगार योजना का लाभ लेने के लिए ऑफिशियल वेबसाइट की सहायता से रजिस्ट्रेशन कराने की आवश्यकता होती है। लाभार्थी को Pradhan Mantri Rojgar Yojana 2021 में  ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कराने के लिए पात्रता एवं योग्यता का पालन करना होगा। हम नीचे प्रधानमंत्री रोजगार योजना रजिस्ट्रेशन की पात्रता एवं योग्यता के विषय में संपूर्ण जानकारी आपको देने जा रहे हैं। जिसको प्राप्त करने के बाद आप नीचे दिए गए चरण को अपनाकर सीधा अपना रजिस्ट्रेशन प्रधानमंत्री बेरोजगार योजना मैं करवा कर उस लिस्ट में अपना नाम जुड़वा पाएंगे। तो चलिए जानते हैं की प्रधानमंत्री योजगार योजना में आवेदन करने के लिए योग्यता क्या है?

PMRY Loan Scheme 2021 का लाभ लेने के लिए महत्वपूर्ण आंकड़े

आवेदक की आयु 18 से 35 वर्ष
शैक्षिक योग्यता न्यूनतम 8वीं कक्षा पास
पारिवारिक आय परिवार की वार्षिक आय रु 40,000 से अधिक नहीं होनी चाहिए
ब्याज दर सामान्य दर बैंक द्वारा निर्धारित की जाएगी
लोन डिफाल्टर किसी भी नेशनल/प्राइवेट बैंक का डिफॉल्टेर नहीं होना चाहिए
ऋण वापसी का समय तीन से लेकर 7 साल तक
सब्सिडी और मार्जिन मनी  परियोजना लागत के 15% तक सब्सिडी सीमित होगी
कोलैटरल 2 लाख तक की परियोजना के लिए कोई कोलैटरल नहीं
आरक्षण महिलाओं सहित कमजोर वर्ग (एससी / एसटी)

PMRY Loan 2021

अभी-अभी हमारे देश भारत में अगर आकलन किया जाए तो लगभग 55 प्रतिशत युवा बेरोजगार है उन्हें प्राप्त डिग्री होने के बावजूद भी रोजगार का अवसर नहीं मिल पा रहा है जिससे वह काफी परेशानी का सामना कर रहे उनके पास योग्यताएं हैं लेकिन किसी भी उद्योग में उन्हें नौकरी नहीं मिल पा रही है करोना काल में भी बेरोजगारी की दर काफी बढ़ गई है। Pradhan Mantri Rojgar Yojana का लाभ देने का मुख्य उद्देश्य है कि भारत के तमाम शिक्षित बेरोजगार इनके पास योग्यताएं हैं पदार्थ आए हैं लेकिन रोजगार करने का ऑप्शन नहीं मिल रहा है। उन्हीं को प्रधानमंत्री रोजगार योजना के तहत कुछ ऋण प्रदान की जाएंगी

इस योजना के अंतर्गत भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा समय- समय पर जारी किए गए निर्देश के अनुसार ब्याज लगाया जाता है।वर्तमान में 25000 रूपए तक के ब्याज दर 12.5 प्रतिशत तथा 25000 रू. से 1 लाख रू. तक के ऋण पर ब्याज दर 15.5 प्रतिशत है। अधिकतम सीमा 1000000 रुपए रखी गई है इसका उपयोग बेरोजगार युवा उद्योग शुरू करके अपना छोटा से छोटा बड़ा से बड़ा कर पाएंगे व्यापार जिससे उनकी रोजमर्रा की जिंदगी में काफी बदलाव आएगा आसपास के लोगों को रोजगार मिलेगा एक उद्योग से काफी लोगों के रोजगार मिल सकता है इसलिए यह योजना काफी अहम हो जाता है।

पीएम रोजगार लोन योजना पात्रता

प्रधानमंत्री रोजगार योजना की पात्रता इस प्रकार है:

  • PRMY के लक्षित कर्मचारी वे हैं जिनके पास प्रति माह कम से कम या 15,000 रुपये के बराबर आय है। जिन लोगों का मासिक वेतन 1500 रुपये से अधिक है, वे पीएमआरवाई योजना के लिए पात्र नहीं हैं।
  • शिक्षित कर्मचारी और बेरोजगार लोगों की आयु 18 से 35 वर्ष के बीच होनी चाहिए।
  • न्यूनतम शैक्षणिक योग्यता 8 वीं कक्षा उत्तीर्ण होना चाहिए ।
  • आवेदन करने वाले व्यक्ति को 3 या 7 साल के लिए अपने क्षेत्र का स्थायी निवासी होना चाहिए।
  • लाभार्थी की पारिवारिक आय रु .40,000 प्रति माह से कम होनी चाहिए।
  • नियोक्ताओं के योग्य होने के लिए, उन्होंने अपने प्रतिष्ठान में नए कर्मचारियों को जोड़ा होगा। इन नए कर्मचारियों के पास आधार सीड यूनिवर्सल अकाउंट नंबर होना चाहिए और किसी भी पूर्व कर्मचारी भविष्य निधि संगठन या ईपीएफओ में काम नहीं किया है।
  • पंजीकृत ईपीएफओ के पास श्रम पहचान संख्या या लिन होना चाहिए; श्रम सुविधा पोर्टल के तहत आवंटित।
  • आवेदक को न्यूनतम 3 वर्षों के लिए क्षेत्र में स्थायी निवास होना चाहिए।

पीएमआरवाई की विशेषताऐं

  • डेट के देश के बेरोजगार युवा उनकी आर्थिक स्थिति काफी दयनीय सभी सूत्रों से मिलाकर उनके परिवार की आयु लगभग 40,000 से कम है उन्हें इस योजना का लाभ दिया जाएगा
  • देश के आर्थिक रूप से कमजोर बेरोजगार युवाओं को सरकार निशुल्क प्रशिक्षण भी देगा इस योजना के प्रशिक्षण के लिए विभिन्न जगहों पर केंद्र बनाए गए हैं
  • जिसमें के व्यवसाय को अच्छी तरह से चला सके भारत की बढ़ती बेरोजगारी को देखते हुए इस योजना को शुरू किया गया।
  • इस योजना के तहत मुख्य रूप से अनुसूचित जाति(SC)अनुसूचित जन जाति (ST)तथा महिला वर्ग और पिछड़े वर्ग (OBC) को आरक्षण दिया गया है |

आवश्यक दस्तावेज़

PMRY के लिए आवेदन करने के लिए, निम्नलिखित दस्तावेजों को इकट्ठा करने की आवश्यकता है:

  • प्रमाण आईडी पहचान (ड्राइवर का लाइसेंस, पैन कार्ड, पासपोर्ट, आदि)
  • स्कूल से जन्म तिथि का प्रमाण- एसएससी प्रमाणपत्र / टीसी जिसमें से आवेदक ने स्नातक किया हो
  • एमआरओ ने जारी किया जाति प्रमाण पत्र (यदि लागू हो)
  • आय का प्रमाण पत्र
  • न्यूनतम 3 वर्षों के लिए निवास का प्रमाण।
  • प्रशिक्षण का ईडीपी प्रमाणपत्र
  • अनुभव, योग्यता और तकनीकी कौशल का प्रमाण पत्र।
  • प्रस्तावित परियोजना प्रोफ़ाइल की प्रति

प्रधानमंत्री रोजगार योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन करने के चरण

  • PMRY के लिए आवेदन करने के लिए, निम्नलिखित चरणों का पालन करने की आवश्यकता है:
  • आधिकारिक प्रधानमंत्री रोजगार योजना की वेबसाइट www.pmrpy.gov.in पर जाएं
  • योजना के लिए आवेदन फ़ाइल डाउनलोड करें और इसे सही और प्रासंगिक जानकारी के साथ भरने के लिए आगे बढ़ें ( आवेदन फॉर्म )
  • आवश्यक दस्तावेजों को छवियों के रूप में स्कैन और अपलोड करें और उन्हें भरे हुए आवेदन पत्र के साथ संलग्न करें।
  • भरे हुए आवेदन पत्र को वांछित दस्तावेजों के साथ संबंधित बैंक में जमा करें। सफल प्रस्तुत करने के बाद, बैंक आपके साथ नियत समय में ऋण के विवरण के साथ संपर्क करेगा।

प्रधान मंत्री रोजगार योजना कुछ महत्वपूर्ण कागज़ात

  • आधार कार्ड
  • आय प्रमाण पत्र
  • जाति प्रमाण पत्र
  • पहचान पत्र
  • शुरू किये जाने वाले व्यवसाय का विवरण
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

Pradhan Mantri Rojgar Yojana में आने वाले उधोग

  • खनिज आधारित उद्योग
  • वनाधारित उद्योग
  • कृषि आधारित और खाद्य उद्योग
  • रसायन आधारित उद्योग
  • इंजीनियरिग और गैर पराम्परागत ऊर्जा
  • वस्त्र उद्योग। (खादी को छोड़कर)
  • सेवा उद्योग

प्रधानमंत्री रोजगार योजना से लाभ लेने का तरीका

  • प्रधानमंत्री रोजगार योजना से लाभ लेने के लिए आप युवक/युवतियों को जिला उद्योग केंद्र जाकर योजना की पूरी जानकारी प्राप्त करनी चाहिए उनके द्वारा बताये गए प्रमाण पत्र आपने होना आवश्यक है ।
  • जिस रोजगार के लिए ऋण प्राप्त करना है उसके लिए कोई अच्छी परियोजना बना लेना चाहिए ताकि भविष्य में ऋण मिल जाने पर उसका अच्छा उपयोग किया जा सके।
  • साक्षात्कार के समय भी साक्षात्कर लेने वाले पदाधिकारी यह जांचने का प्रयास करते हैं की सामने बैठा युवक/युवती स्वरोजगार करने के लिए किस हद तक कृतसंकल्प है। वैसी परिस्थिति में स्वरोजगार के लिए बनायी गयी परियोजना काफी मददगार सिद्ध होती है
  • आवेदक को चाहिए कि अपने आवेदन के साथ वह आवासीय, आय एवं जाति प्रमाण – पत्र अवश्य संलग्न करे। इन प्रमाणपत्रों के अभाव में आवेदन पर विचार नहीं किया जाता है।
    सरकारी अनुदान
  • केंद्र सरकार द्वारा भारतीय रिजर्व बैंक के माध्यम से प्रत्येक आवेदक के मामले में परियोजना लागत के 15 प्रतिशत के बराबर लेकिन अधिकतम 7500 रू. तक की अनुदान की राशि संबधित बैंक द्वारा ऋणी के नाम से सावधि जमा रसीद बनाकर स्वयं के पास रख लिया जाता है। इसके अवधि न्यूनतम 3 वर्ष की होती है।

प्रधानमंत्री रोजगार योजना में पूछे जाने वाले कुछ महत्वपूर्ण प्रश्न उत्तर

प्रधानमंत्री रोजगार योजना में कितना धन खुद लगाना होगा?

  • इस योजना में 5 प्रतिशत आपको खुद का धन लगाना होगा।

प्रधानमंत्री रोजगार योजना में काम से काम उम्र क्या है?

  • इस योजना में  18 वर्ष न्यूनतम आयु होनी चाहिए ।

प्रधानमंत्री रोजगार योजना में कितना लोन दिया जा सकता है?

  • 10 लाख का लोन दिया जाएगा ।

पीएमआरवाई योजना किन गतिविधियों को कवर करती है?

  • PMRY कृषि सहित सभी आर्थिक गतिविधियों को शामिल करता है। हालांकि, प्रत्यक्ष कृषि गतिविधियों जैसे खाद की खरीद या फसलों को उठाना योजना से बाहर रखा गया है।

क्या किसी साझेदारी में संपार्श्विक की छूट है?

  • साझेदारी के मामले में, संपार्श्विक की छूट प्रति व्यक्ति रु .1 लाख तक सीमित होगी, जो परियोजना में भागीदार के रूप में भाग ले रहा है।

क्या पीएमआरवाई योजना के लिए कोई विशेष ब्याज दर है?

  • नहीं। प्रधान मंत्री रोज़गार योजना के तहत ऋण के लिए ब्याज दर सामान्य होगी।

इस योजना का कोई आरक्षण कारक है?

  • पीएमआरवाई योजना उन लोगों के लिए 22.5% आरक्षण की अनुमति देती है जो एससी और एसटी हैं। वहीं अन्य पिछड़ा वर्ग के लोगों के लिए 27% आरक्षण बचा है। कुल मिलाकर आरक्षण की दृष्टि से समाज के कमजोर और कमजोर तबके को प्राथमिकता दी जानी चाहिए।

Leave a Comment